Monday, May 3, 2021

refraction of light through a prism in hindi

प्रिज्म से प्रकाश का अपवर्तन


प्रिज्म में पहले फलक AB पर आपतन कोण‌ i तथा अपवर्तन कोण r1 है जबकि दूसरे फलक AC पर आपतन कोण‌ r2 तथा अपवर्तन कोण या निर्गत कोण e है।
अपवर्तन किरण तथा आपतित‌ किरण के बीच का कोण ∆ विचलन कोण है।
चतुर्भुज AQNR में,
∠A+∠QNR = 180° __________ (1)
∆QNR से, ∠r1+∠r2+∠QNR = 180° ________ (2)
समीकरण (1) and (2) से ___
∠A+∠QNR = ∠r1+∠r2+∠QNR
∠A = ∠r1+∠r2 _________ (3)
चूंकि,
r1=r2 = r ______ (4)
क्योंकि,
∠i =∠e
अतः
A = r+r _____( समी.(4) से)
A = 2r r = A/2 ______ (5)
चूंकि,
δ दोनों फ्लकों पर विचलन का योग है
अतः
δ=( i - r1 )+( e - r2 )
δ= i + e - A ________ (6)
चूंकि
δ= δm (विचलन कोण)
समी. (6) से,
δm = i + i - A _______ ( i = e )
δm = 2i - A
i = ( δm + A ) / 2 _______ (7)
हम जानते हैं कि
n = sin i/ sin r
n= sin i [(A+ δm)/2] / sin A/2
{ समी (4) और (7) से }

'
Disqus Comments